अधूरा है सफ़र तेरे इंतेज़ार में।

 (Adhura Hai Safar Tere Intezaar Mein)

अधूरा है सफ़र तेरे इंतज़ार में,
तुझे ढूंढे है नज़र अब भी प्यार में।
Adhura hai safar tere intezaar mein,
Tujhe dhoondhe hai nazar ab bhi pyaar mein.
कुछ रस्ते संग तेरे गुज़रने थे मुझे,
जो है खोए हुए सभी मझधार में।
Kuch raste sang tere guzarne the mujhe,
Jo hain khoye hue sabhi majhdhaar mein.
मेरी नादानी ही तो थी तुझे चाहा बेइन्तहां,
तेरे प्यार में छोड़ा सारा जहाँ,
भटकता हूँ अब बंजारा सा मैं,
ये ज़िन्दगी अब नहीं मेरे इख़्तियार में।
Meri nadani hi to thi tujhe chaha beintehaan,
Tere pyaar mein choda sara jahan,
Bhatakta hun ab banjara sa mein,
Ye zindagi ab nahin mere ikhtiyaar mein.
अधूरा है सफ़र तेरे इंतज़ार में,
तुझे ढूंढे है नज़र अब भी प्यार में।
Adhura hai safar tere intezaar mein,
Tujhe dhoondhe hai nazar ab bhi pyaar mein.
जहाँ मिल जाओगे होगी मेरी मंज़िल वही,
मौत बैठी है वरना मिटाने हमें ख़ाक़ में। 
Jahan mil jaoge hogi meri manzil wahi,
Maut bethi hai warna mitane hamein khak mein.

अधूरा ( Adhura ) – Incomplete, मझधार ( Majhdhaar ) – Midstream,  बेइन्तहां ( Beintehaan ) – Limitless
इख़्तियार ( Ikhtiyaar ) – Control ,ख़ाक़ ( khak ) – Soil 
Advertisements

17 thoughts on “Adhura Hai Safar Tere Intezaar Mein

  1. nice lines…. specialy the first two

    अधूरा है सफ़र तेरे इंतज़ार में,
    तुझे ढूंढे है नज़र अब भी प्यार में

    and last two 🙂

    जहाँ मिल जाओगे होगी मेरी मंज़िल वही,
    मौत बैठी है वरना मिटाने हमें ख़ाक़ में

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s